Thursday, June 14, 2012

जीने भी नहीं देते हैं मरने भी नहीं देते 
यारब तेरी दुनिया के ये लोग किस तरह के 
----अर्पित अनाम