Monday, January 23, 2012

जूतम-पैजार

जो जनता के खिलाफ काम करे उसे भी जूते,
जो जनता की आवाज उठाये उसे भी जूते .
यह जूतम-पैजार बंद होनी चाहिए .