Wednesday, December 8, 2010

धर्म

नेक कर्म धर्म है . बुरा कर्म अधर्म है .